गौरव बिदुड़ी

भारत के युवा मुक्केबाज गौरव बिधुड़ी गुरुवार को वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप के पुरुषों के 56 किलोग्राम भारवर्ग के सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा. गौरव को अमेरिका के ड्यूक रागान ने 5-0 से मात दी. इसी के साथ गौरव को चैंपियनशिप में कांस्य से ही संतोष करना पड़ा है.

इतिहास रचने ने चूके गौरव

गौरव इस चैंपियनशिप में इतिहास रचने के करीब आकर चूक गए. वह अगर जीत जाते तो इस चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनाने वाले पहले भारतीय होते. 24 साल के गौरव इस चैंपियनशिप में पहली बार उतरे थे. वह इस चैंपियनशिप में पदक जीतने वाले चौथे भारतीय मुक्केबाज हैं. उनसे पहले विजेंदर सिंह, विकास कृष्णा और शिव थापा इस चैंपियनशिप में पदक जीत चुके हैं.

चौथे भारतीय मुक्केबाज बने गौरव

विजेंदर वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में पदक जीतने वाले पहले भारतीय मुक्केबाज है. उन्होंने 2009 में पदक जीता था इसके बाद विकास ने 2011 और थापा ने 2015 में पदक जीत चुके है. अमेरिकी खिलाड़ी को हालांकि सभी रेफरियों ने सर्वसहमति से विजेता चुना लेकिन गौरव ने उनका अच्छा मुकाबला किया और रेफरियों द्वारा दिया गया स्कोर काफी करीबी था पांच में से चार रेफरियों ने 30-27 का स्कोर दिया तो वहीं एक रेफरी ने 30-26 का स्कोर दिया.

bestnewsreaderSports NewsWorld Boxing Championship News
भारत के युवा मुक्केबाज गौरव बिधुड़ी गुरुवार को वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप के पुरुषों के 56 किलोग्राम भारवर्ग के सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा. गौरव को अमेरिका के ड्यूक रागान ने 5-0 से मात दी. इसी के साथ गौरव को चैंपियनशिप में कांस्य से ही संतोष करना पड़ा...